Bharatpur News: Kadana and Ashwagandha powder manufactured from Corona Rescue Ayurveda medicines are being distributed at Quarantine Wellness Centers - Dr. Chandraprakash Dixit

Bharatpur News: क्वारंटाइन वेैलनेस सेन्टरों पर कोरोना बचाव आयुर्वेद औषधियेां से निर्मित काढे एवं अश्वगंधा चूर्ण का वितरण किया जा रहा- डाॅ. चन्द्रप्रकाश दीक्षित

Bharatpur News: Kadana and Ashwagandha powder manufactured from Corona Rescue Ayurveda medicines are being distributed at Quarantine Wellness Centers - Dr. Chandraprakash Dixit

भरतपुर (5.5.2020) भारत सरकार के आयुष मंत्रालय के दिशा निर्देशानुसार जिला प्रशासन के निर्देशन में आयुर्वेद विभाग द्वारा मुख्यालय पर संचालित क्वारंटाइन वेैलनेस सेन्टरों पर कोरोना बचाव हेतु एडमिट व्यक्तियों को रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने एवं अच्छे स्वास्थ्य के लिये आयुर्वेद औषधियेां से निर्मित काढे एवं अश्वगंधा चूर्ण का वितरण आयुर्वेद टीम द्वारा नियमित किया जा रहा है।

टीम के प्रभारी डाॅ. चन्द्रप्रकाश दीक्षित ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए एडमिट 165 व्यक्तियों को विशेष योजना के तहत इम्यूनिटी बूस्टर काढा एवं औषधि सुबह सांय वितरित कीि जा रही है। काढा वितरण का कार्य पूर्णतः चिकित्सकीय प्रोटोकोल एवं सोशल डिस्टेन्सिंग को ध्यान में रखकर किया जा रहा है।

साथ ही शारीरिक एवं मानसिक अच्छे स्वास्थ्य के लिये दैनिक योग व्यायाम की सलाह के साथ साथ कोरोना की रोकथाम हेतु बचाये गये निर्देशों की अक्षरशः पालना करने की बात टीम के सदस्यों द्वारा नियमित बताई जा रही है। सेवाओं को देखते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वा0 अधिकारी डाॅ. कप्तान सिंह द्वारा काढा वितरण की सुविधा के लिए वाहन एवं सुरक्षा के लिए मास्क, ग्लब्स एवं सेनेटाइजर की व्यवस्था की गई है।

क्वारंटाइन सेन्टरों पर रह रहे लोगों के लिए और अधिक स्वास्थ्य के लिए लाभदायक औषधियेां और स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए साबुन, तौलिया, मास्क आदि की व्यवस्था के साथ साथ काढा वितरण टीम के लिए टीटीई किट एवं आवश्यक औषधियों लूपिन फाउन्डेशन के अधिशाषी निदेशक सीताराम गुप्ता द्वारा की गई।

उप निदेशक डाॅ. निरंजन सिंह ने बताया कि आयुष मंत्रालय के निर्देशानुसार पंजीकृत लोगों को 14 दिन तक प्रातः एवं सांय काढे और औषधि सेवन कराते हुए प्रतिदिन की स्थिति का उल्लेख निर्धारित प्रपत्र में किये जाने की व्यवस्था की गई है। सहायक निदेशक डाॅ. संजीव तिवारी ने बताया कि काढे का निर्माण कार्य आयुर्वेद रसायनशाला में उप निदेशक डाॅ. निरंजन सिंह, रसायनशाला प्रबन्धक डाॅ.सुशील पाराशर एवं टीम प्रभारी डाॅ. चन्द्रप्रकाश दीक्षित की देखरेख में प्रतिदिन किया जा रहा है। काढा वितरण व्यवस्था के लिए टीम सदस्य डाॅ. प्रेम सिंह, दिलीप तिवारी, डाॅ. लक्ष्मी नारायन शर्मा, डाॅ.रविन्द्र गर्ग, डाॅ. महेशचंद शर्मा, मेलनर्स दिनेश शर्मा, रामवीर सिंह, सत्यभान एवं रूपसिंह द्वारा सेवाएॅ प्रदान की जा रही हैं।