शत-प्रतिशत ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को मिलेगा मुआवजा- पर्यटन एवं देवस्थान मंत्री विश्वेन्द्र सिंह

शत-प्रतिशत ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को मिलेगा मुआवजा- पर्यटन एवं देवस्थान मंत्री विश्वेन्द्र सिंह

Last Updated on by Sntv24samachar

  • शत-प्रतिशत प्रभावित किसानों को मिलेगा मुआवजा
  • अराजक तत्व संवेदनशील घटना का न उठायें लाभ अन्यथा होगी कार्यवाही
  • पीड़ित किसान संयम रखकर जिला प्रशासन का करें सहयोग
Farmers affected by 100 percent hail storm will get compensation - Tourism and Devasthan Minister Vishvendra Singh
Farmers affected by 100 percent hail storm will get compensation – Tourism and Devasthan Minister Vishvendra Singh

भरतपुर, 07 मार्च। पर्यटन एवं देवस्थान मंत्री विश्वेन्द्र सिंह ने किसानों से आग्रह किया कि वे किसी के बहकावे में न आयें शत-प्रतिशत पीड़ित किसानों को फसल क्षति का नियमानुसान मुआवजा दिलाया जायेगा।
पर्यटन मंत्री श्री सिंह शनिवार को विगत दिवस हुई अतिवृष्टि एवं ओलावृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण कर किसानों को ढाढंस बंधाते हुए राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा की जा रही कार्यवाही के बारे में विस्तार से जानकारी दी। पर्यटन मंत्री श्री सिंह शनिवार को प्रातः 6ः30 बजे जयपुर से रवाना होकर प्रातः 9ः30 बजे पंचायत समिति कुम्हेर के ग्राम पंचायत सोनेरा, खंसवाडा, पपरेरा, भटावली, गांगरौली, गुदावली, अस्तावन, विरहरू, सिकरोरा, पला, तुहिया, सातरूक, रारह पंचायत समिति डीग के ग्राम पंचायत सेंत, बदनगढ़, मढेरारूंध, मदवना, तमरेर, करउआ, कौंरेर, कासौट, सिनसिनी एवं अऊ गांव पहुचकर किसानों सेे ओलावृष्टि के कारण हुए फसल खरावे की जानकारी ली।

उन्होंने अराजक तत्वों को आगह किया कि वे इस संवेदनशील मामले में किसानों को भडकाकर सड़क जाम जैसे नियम विरूद्ध कार्य न करायें अन्यथा उनके विरूद्ध पुलिस कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने किसानों से भी आग्रह किया कि वे संयम बरतते हुए जिला प्रशासन द्वारा की जा रही विशेष गिरदावरी के कार्यो में पटवारी एवं अन्य राज्य कर्मियों का सहयोग करें जिससे यह विशेष गिरदावरी का कार्य पूर्ण सुचिता के साथ तत्काल कर फसल खरावा की रिपोर्ट भिजवाई जा सकें।


पर्यटन मंत्री श्री सिंह ने कहा कि राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन पूर्ण संवेदनशील होकर टीम भावना के साथ मुआवजा की प्रक्रिया पूर्ण करने में जुटा है। इसमें आपके सहयोग की आवश्यकता है उन्होंने कहा कि यह विशेष गिरदावरी अभियान 15 दिवस की अवधि तक चलेगा जिससे कोई पीडित किसान गिरदावरी के कारण मुहावजे से वंचित न रहें। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा मुख्यमंत्री से जिले के किसानों को राहत के लिये विशेष आर्थिक पैकेज देने की वार्ता की है। जिस पर मुख्यमंत्री ने सकारात्मक रूख प्रकट किया है।

उन्होंने किसानों की भा्रंति दूर करते हुए कहा कि वे किसी के बहकावे में न आयें। किसान के्रडिट कार्डधारियों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत एचडीएफसी एरगो बीमा कम्पनी द्वारा दिया जायेगा शेष किसानों को राज्य सरकार एवं एसडीआरएफ कोष से दिलाया जायेगा इसके साथ ही वे राज्य सरकार से विशेष आर्थिक पैकेज केे माध्यम से जिले के प्रभावित किसानों को और अधिक सहायता राशि उपलब्ध कराने का प्रयास कर रहें है। उन्होंने कहा कि यह मुहावजा उन प्रभावित किसानों को भी मिलेगा जिनकी आधार कार्ड नहीं है, कुरेबंदी की प्रक्रियाधीन है तथा आधबटाई वाले किसानों को आपसी इकरारनामे के आधार पर मुहावजा दिया जायेगा।


पर्यटन मंत्री श्री सिंह ने कहा कि उन्हें एवं मुख्यमंत्री को विशेष दुःख है कि किसानों की तैयार फसल पर आई प्राकृतिक आपदा से बहुत अधिक नुकसान हुआ है। जिसकी पूर्णतय भरपाई तो राज्य सरकार द्वारा किया जाना सम्भव नही है पर किसानों को फसल की क्षतिपूर्ति के लिए मुहावजा राशि शीघ्र दिलाने का प्रयास अवश्य कर रहें है। उन्होंने किसानों से आग्रह किया कि वे बीमा कम्पनी से मुहावजे के लिए आपदा के 72 घंटे की अवधि में टोल फ्री नम्बर 18002660700 पर खरावे की सूचना आवश्यक रूप से दें जिससे मुहावजे की प्रक्रिया पूर्ण करने के लिए कम्पनी बाध्य हो इसके साथ ही घटना के 7 दिवस के अन्दर कृषि विभाग के सम्बन्धित कार्मिक को भी लिखित प्रार्थनापत्र भी जमा करायें।

उन्होंने कुम्हेर एवं डीग के उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार सहित अन्य राजस्व कार्मिकों को निर्देश दिये है कि वे इस विशेष गिरदावरी अभियान के तहत पूर्ण निष्पक्ष होकर बिना किसी भेदभाव के वास्तविक सर्वे रिपोर्ट तैयार करें। इसमें कृषि विभाग के अधिकारी भी समन्वय रखते हुए उनका सहयोग करें साथ ही उन्होंने नवनिर्वाचित सरपंचो एवं गणमान्य नागरिकों से भी आग्रह किया है कि वे इस सर्वे रिपोर्ट की निगरानी रखें किस इसमें से कोई प्रभावित किसानों छूटा तो नहीं है। उन्होंने आमजन से अपील की है कि वे दलगत राजनीति से दूर रहकर किसानों की इस संकट की घड़ी में पूर्ण सहयोग करें।


पर्यटन मंत्री ने अस्तावन, पला एवं कुम्हेर कस्बे के सौंख चैराहे पर पीड़ित किसानों द्वारा सड़क अवरोध डालकर लगाये गये जाम को आपसी समझाइश के माध्यम से खुलवाया। उन्होंने ग्राम कासौदा एवं मधुवना के किसानों द्वारा कई दिनों से बिजली न मिलने की समस्या से अवगत कराने पर ग्राम कासौदा की विद्युत समस्या के समाधान के लिए जिला कलक्टर एवं विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये।


इस भ्रमण के दौरान उपखण्ड अधिकारी कुम्हेर उत्सव कौशल, उपखण्ड अधिकारी डीग श्रीमती सुमन देवी, तहसीलदार डीग सोहन सिंह नरूका, तहसीलदार कुम्हेर, कृषि विभाग के संयुक्त निदेशक देशराज सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहें।

Leave a Comment