भरतपुर जिले में 61 हजार 145 खाद्य सुरक्षा से बाहर विशेष श्रेणी के व्यक्तियों एवं प्रवासियों को मई-जून में मिलेगा 5 कि.ग्रा. गेहूं प्रतिमाह,1577 मैट्रिक टन गेहूं निशुल्क एवं 1368 मैट्रिक टन गेहूं कीमतन वितरित होगा

Last Updated on by Sntv24samachar

भरतपुर जिले में 61 हजार 145 खाद्य सुरक्षा से बाहर विशेष श्रेणी के व्यक्तियों एवं प्रवासियों को मई-जून में मिलेगा 5 कि.ग्रा. गेहूं प्रतिमाह,1577 मैट्रिक टन गेहूं निशुल्क एवं 1368 मैट्रिक टन गेहूं कीमतन वितरित होगा

In Bharatpur district, 61 thousand 145 out of food security special category people and migrants will get 5 kg in May-June. Wheat per month, 1577 metric tons of wheat will be distributed free of cost and 1368 metric tons of wheat

भरतपुर, 9 जून। जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा   जिले में 61 हजार 145 खाद्य सुरक्षा से बाहर विशेष श्रेणी के व्यक्तियों एवं प्रवासियों को मई व जून 2020 के लिए 5 किग्रा गेहंू प्रति यूनिट प्रतिमाह निःशुल्क वितरण करने हेतु 1577.45 मैट्रिक टन गेहूं निःशुल्क वितरण हेतु एवं 1368.850 मैट्रिक टन गेहूं कीमतन वितरण के लिए आवंटित किया गया है। जिले के लिए कुल  2946.30 मैट्रिक टन गेहूं आवंटित किया गया है।

जिला कलक्टर ने बताया कि जिले में कुल 61 हजार 145 खाद्य सुरक्षा सूची से बाहर के प्रवासियों एवं विशेष श्रेणी के परिवारों के 2 लाख 44 हजार 833 व्यक्तियों का पंजीयन किया गया है, जिन्हें 2448.33 मैट्रिक टन गेहूं एवं 122.90 मैट्रिक टन चना का वितरण किया जायेगा। आगामी समय में संभावित पंजीयनों के लिए खाद्य एवं आपूर्ति निगम को 86.670 मैट्रिक टन गेहूं एवं 3.410 मैट्रिक टन चना आवंटित किया गया है।

गेहूं एवं चना का वितरण करने के लिए क्रय-विक्रय सहकारी समिति बयाना, नगर, नदबई, भरतपुर एवं महिला बहुउद्देश्यीय सहकारी समिति कुम्हेर एवं खाद्य एवं आपूर्ति निगम भरतपुर को आवंटन किया गया है।

उन्होंने बताया कि जिले में मिड डे मील योजना का जो गेहूं राशन डीलरों, विद्यालयों अथवा के.वी.एस.एस पर गत वित्तीय वर्ष के चतुर्थ तिमाही की अवशेष मात्रा के रूप में उपलब्ध है, उसका वितरण भी निःशुल्क प्राप्त गेंहू के पश्चात आवंटन में शामिल कर किया जायेगा। शेष मात्रा कीमतन भारतीय खाद्य निगम से प्राप्त की जायेगी।  

जिला कलक्टर ने आदेश जारी कर प्रबंधक खाद्य नागरिक आपूर्ति निगम भरतपुर को निर्धारित अवधि में गेहूं व चना का उठाव कर उप आवंटन अनुसार उचित मूल्य दुकानों पर आपूर्ति किया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। उक्त आवंटन अनुसार वितरण हेतु सभी उपखण्ड अधिकारी प्रत्येक उचित मूल्य दुकान पर सरकारी कर्मचारियों की नियुक्ति करेंगे।