Rajasthan: CM Gehlot has taken a big decision in the interest of the students, till the lockdown continues, the school will not be able to take advance fees, except school 10th-12th, the remaining school students will be upgraded

Rajasthan: CM गहलोत ने छात्रों के हित में लिया बड़ा फैसला लॉकडाउन जारी रहने तक अग्रिम फीस नहीं ले सकेंगे स्कूल 10वीं-12वीं को छोड़कर शेष स्कूली छात्र क्रमोन्नत होंगे

Last Updated on by Sntv24samachar

Rajasthan: CM गहलोत ने छात्रों के हित में लिया बड़ा फैसला लॉकडाउन जारी रहने तक अग्रिम फीस नहीं ले सकेंगे स्कूल 10वीं-12वीं को छोड़कर शेष स्कूली छात्र क्रमोन्नत होंगे

Rajasthan: CM Gehlot has taken a big decision in the interest of the students, till the lockdown continues, the school will not be able to take advance fees, except school 10th-12th, the remaining school students will be upgraded
Rajasthan: CM Gehlot has taken a big decision in the interest of the students, till the lockdown continues, the school will not be able to take advance fees, except school 10th-12th, the remaining school students will be upgraded

जयपुर, 9 अप्रैल।  मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लागू लॉकडाउन के जारी रहने तक प्रदेश के सभी स्कूल संचालकों को विद्यार्थियों से तीन माह की अग्रिम फीस नहीं लेने के निर्देश दिए हैं। विद्यार्थियों के हित में यह फैसला करते हुए उन्होंने कहा है कि फीस के अभाव में किसी भी छात्र का नाम नहीं काटा जाए। साथ ही, 10वीं एवं 12वीं बोर्ड परीक्षाओं वाले विद्यार्थियों को छोड़कर अन्य सभी स्कूली विद्यार्थियों को अगली कक्षा में क्रमोन्नत किया जाए।

श्री गहलोत गुरूवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लॉकडाउन के दौरान स्कूलों, कॉलेजों सहित सभी शिक्षण संस्थानों में शैक्षणिक सत्र की स्थिति और आगामी सत्र की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिए कि स्कूलों और कॉलेजों में यथासम्भव ऑनलाइन लेक्चर तथा ई-लर्निंग की व्यवस्था की जाए, ताकि विद्यार्थियों की पढ़ाई में निरन्तरता बनी रहे और वे घर पर रहकर भी समय का सदुपयोग कर सकें। 

तकनीकी विश्वविद्यालय के आठवें सेमेस्टर की परीक्षाएं प्राथमिकता से

कॉन्फ्रेंस में निर्णय लिया गया कि प्रदेश के सभी उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा से जुडे़ संस्थानों में 15 अप्रैल से ग्रीष्म अवकाश घोषित किया जा सकता है। लेकिन स्कूलों में 15 अप्रैल से ग्रीष्म अवकाश नहीं होगा। साथ ही, राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय से सम्बद्ध संस्थानों मेें लॉकडाउन हटने के बाद आठवें सेमेस्टर की परीक्षाएं प्राथमिकता से करवाने का भी निर्णय लिया गया। 
परीक्षाओं के शेड्यूल और आगामी शैक्षणिक सत्र के लिए 5 सदस्यीय समिति 

कॉन्फ्रेंस में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने बताया कि उच्च शिक्षा विभाग ने विश्वविद्यालय परीक्षाओं के शेड्यूल के निर्धारण के लिए एक 5 सदस्यीय समिति बनाई है, जो लॉकडाउन हटने के बाद परीक्षाओं और आगामी शैक्षणिक सत्र के संचालन के बारे में सुझाव देगी। समिति में राजस्थान विश्वविद्यालय, जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय और मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय के कुलपति तथा आयुक्त कॉलेज शिक्षा और संयुक्त शासन सचिव उच्च शिक्षा शामिल हैं। 

सभी कक्षाओं की किताबें ऑनलाइन उपलब्ध

शिक्षा राज्य मंत्री श्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि सभी कक्षाओं की किताबें ऑनलाइन उपलब्ध करवा दी गई हैं। अब विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन कन्टेन्ट तैयार करने का कार्य किया जा रहा है ताकि घर पर रहकर भी बच्चे अपनी पढ़ाई जारी रख सकें।

 ई-कन्टेन्ट के लिए यू-ट्यूब चैनल तैयार

तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने बताया कि तकनीकी शिक्षण संस्थानों में मिड सेमेस्टर परीक्षाएं ऑनलाइन पूरी कराई जा चुकी हैं। विद्यार्थियों को ई-कन्टेन्ट उपलब्ध करवाने के लिए एक यू-ट्यूब चैनल तैयार किया गया है, जिस पर 600 से अधिक लेक्चर अपलोड किए गए हैं। अध्यापकों को अधिक से अधिक ई-कन्टेन्ट तैयार करने के लिए निर्देश दिए गए हैं।
कॉन्फ्रेंस में मुख्य सचिव श्री डीबी गुप्ता, शासन सचिव उच्च शिक्षा श्रीमती शुचि शर्मा, शासन सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती मंजू राजपाल और आयुक्त कॉलेज शिक्षा श्री प्रदीप बोरड़ सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।